Maa Shayari, maa shayari in hindi

Maa Shayari, maa shayari in hindi

read our new best  collection of  Maa Shayari, maa shayari in hindi and English I hope you love it.


कोई दुआ असर नहीं करती,
जब तक वो हमपर नजर नहीं करती,
हम उसकी खबर रखे न रखे,
वो कभी हमें बेखबर नहीं करती।

Koi duaa asar nhi karti, Jab tak wo humpar nazar nhi karti, Hum uski khabar rakhe na rakhe, Wo kabhi hume nhi karti…

जब भी मेरे होंटो पर झूटी मुस्कान होती है,
माँ को न जाने कैसे छिपे हुए दर्द की पहचान होती है,
सर पर हाथ फेर कर दूर कर देती है परेशानिया,
माँ के भावनाओ मे बहुत जान होती है ।

Jab bhi mere hoto par jhuti muskan hoti hai, Maa ko na jane kaise chhipe hue dard ki pahchan hoti hai, Sir par haath pher kar door kar deti hai paresaniya, Maa ke bhawnawo mein bahut jan hoti hai…

माँ ने तो उम्र भर संभाला ही था,
हमे तो ज़िंदगी ने रुलाया ही है,
कहा से पड़ती काँटों की आदत हमे,
माँ ने हमेशा अपनी गोद मे सुलाया है।

Maa ne to umar bhar sambhala hi tha, Hume to zindagi ne rulaya hi hai, Kha se parti kanto ki aadat hume, Maa ne humesha apni goad me sulaya hai…

यों भूल जाते है हम उस माँ को वक़्त के साथ साथ,
नहीं रहता हमको उनका कोई ख्याल,
क्या होता होगा उस माँ के दिल का हाल,
जिसने हमारे लिए भुला दिया अपना हर एक ख्वाब।

Yo bhul jate hai hum us maa ko waqt ke saath saath, Nhi rahta humko unka koi khayal, Kya hota hoga us maa ke dil ka hal, Jisne humare liye bhula diya apna har ek khwaab…

मां वो सितारा है जिसकी गोद में जाने के लिए हर कोई तरसता है,
जो मां को नहीं पूछते वो जिंदगी भर जन्नत को तरसता है।

Maa wo sitara hai jiski goad me jane ke liye har koi tarasta hai, Jo maa ko nhi puchte wo zindagi bhar janat ko tarsta hai…

माँ बाप का दिल जीत लो कामयाब हो जाओगे,
वरना सारी दुनिया जीत कर भी हार जाओगे ।

Maa baap ka dil jeet lo kamyab ho jaogye, Warna sari duniya jeet kar bhi har jaogye…

मंजिल दूर और सफ़र बहुत है ,
छोटी सी जिन्दगी की फिकर बहुत है ,
मार डालती ये दुनिया कब की हमे ,
लेकिन “माँ” की दुआओं में असर बहुत है ।

Manzil door aur safar bahut hai, Choti si zindagi ki fikar bahut hai, Mar dalti ye duniya kab ki hume, Lekin maa ki duwao mein asar bahut hai…

Maa Shayari, maa shayari in hindi

बहुत खूबसूरत लब्ज़,
तेरे बिना मैं ये दुनिया छोड़ तो दूँ ,
पर उसका दिल कैसे दुखा दूँ ,
जो रोज़ दरवाजे पर खड़ी कहती है,
“बेटा घर जल्दी आ जाना”।

Bahut khubsurat lwaz, Tere bina mai ye duniya chor to du, Par uska dil kaise dukha du, Jo roj darwaje par khari kahti hai, Beta ghar jaldi aa jana…

एक हस्ती है जो जान है मेरी,
जो जान से भी बढ़ कर शान हे मेरी,
रब हुक्म दे तो कर दू सजदा उसे,
क्यूँ की वो कोई और नही,
माँ है मेरी।

Ek hasti hai jo jan hai meri, Jo jan se bhi badh kar shan hai meri, Rab hukam de to kar du sajda use, Kyu ki wo koi aur nhi, Maa hai meri…

रोटी वो आधी खाती है बच्चे को पूरी देती है,
मेरी हो या तुम्हारी दोस्तों, माँ सबकी माँ ही होती है।

Roti wo aadhi khati hai bache ko puri deti hai, Meri ho ya tumhari dosto, Maa sabki maa hi hoti hai…

इन आँखों के कारण ही, तुझे दिल ने अपनाया था,
ये दिल भी यूँ अक्सर ही, आँखों को भिगाया था,
चलने को तो मैं भी, चला जाता ज़माने से पर,
उस ऊँगली को कैसे भूलता,जो कभी चलना सिखाया था।

In aankhon ke karan hi, Tujhe dil ne apnaya tha, Ye dil bhi yu aksar hi, Aankhon ko bhi – gaya tha, Chalne ko to mai bhi, Chala jata jamane se par, Us ungali ko kaise bhulta, Jo kabhi chlna sikhaya tha…

किसी का दिल तोडना आज तक नही आया मुझे,
प्यार करना जो अपनी ‪माँ‬ से सीखा है मैने।

Kisi ka dil torna aaj tak nhi aaya mujhe, Pyar karna jo apni maa se sikha hai maine…

भूख तो एक रोटी से भी मिट जाती माँ,
अगर थाली की वो एक रोटी तेरे हाथ की होती।

Bhukh to ek roti se bhi mit jati maa, Agar thali ki wo ek roti tere hath ki hoti…

Maa Shayari, maa shayari in hindi

Maa Shayari, maa shayari in hindi
Maa Shayari, maa shayari in hindi

माँ ना होती तो हम ना होते,
माँ के बिना हम अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते,
में शुक्रगुजार हूँ उस माँ का जिस माँ ने मुझे इस दुनिया में लेकर आने का कष्ट उठाया।

Maa na hoti to hum na hote, Maa ke bina hum apne jiwan ki kalpna bhi nhi kar sakte, Mai shukarguzar hu us maa ka jis maa ne mujhe is duniya mein lekar aane ka kast uthaya…

मंजिल दूर और सफ़र बहुत है,
छोटी सी ज़िन्दगी की फिकर बहुत है,
मार डालती ये दुनिया कब की हमे,
लेकिन ‘माँ’ की दुआओं मैं असर बहुत है।

Manzil door aur safar bahut hai, Choti si zindagi ki fikar bahut hai, Mar dalti ye duniya kab ki hume, Lekin maa ki duwao mein asar bahut hai…

फना कर दो अपनी सारी जिन्दगी अपनी ‪‎माँ‬ के कदमो में दोस्तों,
दुनिया में यही एक मोहब्बत है जिस में बेवफाई नही मिलती।

Fana kar do apni sari zindagi apni maa ke kadmo mein dosto, Duniya mein yahi ek mohbbat hai jis mein bewafai nhi milti…

मेरी तक़दीर में एक भी गम ना होता,
अगर तक़दीर लिखने का हक़ मेरी माँ को होता।

Meri takdeer mein ek bhi gum na hota, Agar takdeer likhne ka haq meri maa ko hota…

कौन सी है वो चीज़ जो यहाँ नहीं मिलती,
सब कुछ मिल जाता है लेकिन “माँ” नहीं मिलती।

Kaun si hai wo cheez jo yha nhi milti, Sab kuch mil jata hai lekin maa nhi milti…

कमा के इतनी दोलत भी मैं अपनी ‪‎माँ‬ को दे ना पाया,
के जितने सिक्कों से ,माँ मेरी नज़र उतारा करती थी।

Kma ke itni doulat bhi mai apni maa ko de na paya, Ke jitne sikko se, Maa meri nazar utara karti thi…

ये ऐसा क़र्ज़ है जो मैं अदा कर ही नहीं सकता,
मैं जब तक घर न लौटूं, मेरी माँ सज़दे में रहती है।

Ye aisa karaz hai jo ada kar hi nhi sakta, Mai jab tak ghar na lotu, Meri maa sazde mein rahti hai…

दिल तोड़ना कभी नहीं आया मुझे,
प्यार करना जो सीखा है माँ से।

Dil torna kabhi nhi aya mujhe, Pyaar karna jo sikha hai maa se…

माँ तेरी याद आती है, हर पल मुझे सताती है, बहुत समझाया मैंने अपने दिल को फिर भी आँखे तेरे लिए रोती है।

Maa teri yaad aati hai, Har pal mujhe satati hai, Bahut samjhaya maine apne dil ko fir bhi aankhein tere liye roti hai…

माँ से रिश्ता ऐसा बनाया जाए,
जिसको निगहों में बिठाया जाए,
रहे उसका मेरा रिश्ता कुछ ऐसे कि,
वो अगर उदास हो तो हमसे ऐसे मुस्कुराया ना जाऐ।

Maa se rishta aisa banaya jaye, Jiske nigaho me bithaya jaye, Rahe uska mera rishta kuch aise ki, Wo agar udas ho to humse aise muskuraya na jaye…

माँ से बड़ा कोई नहीं दुनिया सारी कहती है, रुक जाते है माँ के कदम जहां वो जगह जन्नत मे बदल जाती है।

Maa se barha koi nhi duniya sari kahti hai, Ruk jate hai maa ke kaadam jaha wo jagah janat mein badal jati hai…

वो ज़िंदगी भर मोमबत्ती की तरह जलती रही, उजाला देकर घर का अंधेरा दूर करती रही, वो माँ थी यारों जो खुद भूकी रही, पर तुम्हे खिलाती रही।

Wo zindagi bhar mombatti ki tarah jalti rahi, Uzala dekar ghar ka andhera door karti rahe, Wo maa thi yaro jo khud bhuki rahi, Par tumhe khilati rahi…


This is our new best  collection of  Maa Shayari, maa shayari in hindi And English, hope you love it. feel free to share at any social media platform,
read also: Punjabi shayari
Best Hindi S
hayri of 2020
Sad Punjabi Shayari
love Shayari in hindi with images
hindi status for whatsapp in 2020
hindi sad shayari for love, हिंदी सैड शायरी फॉर लव
Punjabi Love status
Hindi Love shayari, hindi love shayari sad
good morning shayari in hindi
hindi status of whats

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *